chessbase india logo

दिसंबर 2019 फीडे रेटिंग - आनंद -हम्पी शीर्ष भारतीय

02/12/2019 -

विश्व शतरंज संघ नें दिसंबर माह की फीडे रेटिंग जारी कर दी है और इस भी सिर्फ महिला वर्ग में ही कोनेरु हम्पी और हरिका द्रोणावल्ली शीर्ष 10 में शामिल है । कोनेरु नें जहां अपना तीसरा तो हरिका नें दसवां स्थान बरकरार रखा है । पुरुष वर्ग मे विश्वनाथन आनंद 2 स्थान के नुकसान के साथ अब 15 वे स्थान पर पहुँच गए है तो हरिकृष्णा 3 स्थान के नुकसान के साथ 27 वे तो विदित 2 स्थान के नुकसान के साथ 30 वे स्थान पर पहुँच गए है । हालांकि ब्लिट्ज़ रैंकिंग मे जरूर विदित आनंद के बाद 2750 का आंकड़ा छूने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी बने है । खिलाड़ियो की रेटिंग जाने का असर देश की रंकिंग पर भी दिखा पर यहाँ भारत रूस ,अमेरिका और चीन के बाद चौंथे स्थान पर बना हुआ है । पढे यह लेख 

Vishy Anand's 50th anniversary T-Shirt

Celebrate Vishy Anand's 50th birthday by getting his high quality T-Shirt from the ChessBase India shop. Just Rs.600 and you get it delivered to your home address for free. Get your T-shirt now.

लंदन फीडे ओपन - प्रग्गानंधा की बेहतरीन जीत

01/12/2019 -

लंदन फीडे ओपन में भारत के नन्हें सितारे आर प्रग्गानंधा नें तीसरी जीत के साथ सयुंक्त बढ़त हासिल कर ली है । तीसरे राउंड में उन्होने इंग्लैंड के रिचर्ड बेट्स को जिस अंदाज में पराजित किया वह वाकई यह बताता है की प्रग्गानंधा किस अंदाज से धीरे धीरे किस तरह से लगातार खुद को बेहतर करने की राह पकड़ चुके है । तीसरे सीड प्रग्गानंधा नें 2586 रेटिंग के साथ प्रतियोगिता की शुरुआत की थी और अब वह 2600 रेटिंग से सिर्फ 10 अंको की दूरी पर मतलब 2590 तक पहुँच गए है देखना होगा की की क्या वह इस प्रतियोगिता से 2600 का आंकड़ा पार करेंगे । खैर बात करे दो अन्य भारतीय खिलाड़ियों की तो अरविंद चितांबरम और सहज ग्रोवर भी अपने तीनों मुक़ाबले जीतकर 3 अंको के साथ सयुंक्त बढ़त पर पहुँच गए है । पढे यह लेख और देखे प्रग्गा के मैच का विडियो विश्लेषण 

लंदन फीडे ओपन - अरविंद -प्रग्गा की अच्छी शुरुआत

30/11/2019 -

35 देशो के 166 खिलाड़ियों के बीच प्रतिष्ठित लंदन चेस क्लासिक फीडे ओपन का शुभारंभ हो गया । भारत के वर्तमान राष्ट्रीय चैम्पियन अरविंद चितांबरम को प्रतियोगिता मे शीर्ष वरीयता दी गयी है जबकि नन्हें ग्रांड मास्टर और अंडर 18 वर्तमान विश्व चैम्पियन आर प्रग्गानंधा को तीसरी वरीयता मिली है । अन्य भारतीय खिलाड़ियों में ग्रांड मास्टर पूर्व विश्व यूथ चैम्पियन रहे सहज ग्रोवर को सातवी वरीयता दी गयी है जबकि महिला वर्ग आर वैशाली खेल रही है । पहले दो राउंड के बाद अरविंद चितांबरम , आर प्रग्गानंधा और सहज ग्रोवर नें अपने दोनों मैच जीतकर अच्छी शुरुआत की है । जबकि वैशाली पहले राउंड मे उलटफेर का शिकार होने के बाद दूसरे राउंड में जीतकर लय में लौटते नजर आई । पढे यह लेख 

विश्व रैपिड और ब्लिट्ज़ 2019 : मॉस्को में लगेगा जमघट

29/11/2019 -

विश्व शतरंज संघ नें कुछ दिनो पहले ही विश्व रैपिड और ब्लिट्ज़ शतरंज चैंपियनशिप के लिए समय और तारीख की घोषणा की थी अब उसकी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है । प्रतियोगिता 26 से 30 दिसंबर के दौरान मॉस्को ,रूस मे खेली जाएगी । रूस मे प्रतियोगिता के होने से निश्चित तौर पर प्रतिभागिता का स्तर उपर उठ जाएगा । भारत से भी अच्छी संख्या मे खिलाड़ियों के इसमें भाग लेने के आसार है । पिछले तीन सालों मे रैपिड और ब्लिट्ज़ की स्वीकार्यता पहले से ज्यादा बढ़ी है और इसीलिए विश्व चैम्पियनशिप का महत्व भी बढ़ा है । देखना होगा की कौन इस बार शतरंज के इस फटाफट फॉर्मेट में बाजी मारता है । सवाल यह भी रहेगा क्या एक बार फिर कार्लसन शतरंज के तीनों फॉर्मेट में खिताब जीतने का कारनामा करेंगे । विश्वनाथन आनंद , पेंटाला हरिकृष्णा ,विदित गुजराती ,निहाल सरीन ,कोनेरु हम्पी और हरिका द्रोणावल्ली के उपर भारतीय संभावनाओं का भार होगा । पढे इस लेख को 

मोनको फीडे ग्रां प्री - हम्पी और हरिका पर होगी नजर

28/11/2019 -

भारतीय महिला शतरंज की दोनों प्रमुख खिलाड़ी विश्व नंबर 3 कोनेरु हम्पी और विश्व नंबर 10 हरिका द्रोणावल्ली एक बार फिर फीडे महिला ग्रां प्री में एक साथ प्रतिभागिता करेंगी । फीडे महिला ग्रां प्री के दूसरे पड़ाव में यह दोनों खिलाड़ी मोनको में विश्व की 8 अन्य शीर्ष महिला खिलाड़ियों के साथ 9 राउंड के राउंड रॉबिन मुक़ाबले खेलेंगी । इससे पहले रूस में हुई ग्रांड प्री जीतकर भारत की कोनेरु हम्पी पहले ही कैंडीडेट पहुँचने की दौड़ में सबसे आगे चल रही है और देखना होगा यहाँ वह कैसा खेल दिखाती है । पूर्व में फीडे ग्रां प्री की विजेता रह चुकी हरिका के लिए भी यह एक अच्छा अवसर होगा अपनी सफलता दोहरने का । पढे यह लेख 

क्यूँ आनंद नहीं पहुंचे ग्रांड चेस टूर फ़ाइनल ?

27/11/2019 -

भारत की शान विश्वनाथन आनंद ग्रांड चेस टूर के फ़ाइनल में नहीं पहुँच पाये है और यह बात भारतीय शतरंज प्रेमियों को काफी अखर रही है और ऐसा हो भी क्यूँ ना आनंद को कौन वहाँ खेलते नहीं देखना चाहता था । खैर कल से हमें काफी सवाल आए है की हम इस बारे में जरा और जानकारी दे तो इस लेख में आपको पता लगेगा की आखिर ऐसा कैसे हो गया । दरअसल आनंद को टाटा स्टील इंडिया शतरंज टूर्नामेंट में सिर्फ छठा स्थान हासिल करना था और वह लंदन में होने वाले फ़ाइनल में पहुँच जाते । दरअसल आनंद प्रतियोगिता के 13 ब्लिट्ज़ मुक़ाबले तक अच्छा खेल रहे थे और पहले पेंटाला हरिकृष्णा और फिर वेसली सो के उपर लगातार दो जीत दर्ज कर चुके थे और ऐसा लग रहा था की उनका ग्रांड चेस टूर का फ़ाइनल पहुँचना एकदम तय है पर उसके बाद अगले बचे 5 राउंड में आनंद सिर्फ 1 अंक बना सके और वह सातवाँ स्थान ही हासिल कर सके और इस दौड़ से बाहर हो गए । पढे यह लेख 

कार्लसन को फिर भाया भारत ! जीता टाटा स्टील खिताब

26/11/2019 -

भारत की भूमि मेगनस कार्लसन को बहुत भाती है और यह बात 6 साल बाद एक बार फिर साबित हो गयी । नॉर्वे के मेगनस कार्लसन नें टाटा स्टील इंडिया का खिताब बेहद शानदार प्रदर्शन के साथ अपने नाम कर लिया ।  मेरे सामने अनायास ही एक बार चेन्नई  2013 का वह दृश्य सामने आ गया जब उन्होने विश्व चैंपियनशिप के दसवें राउंड में ही खिताब जीतकर विश्व चैम्पियन का तमगा हासिल किया था । इस दौरे के पहले सेंट लुईस रैपिड और ब्लिट्ज में बेहद खराब प्रदर्शन और फिर फिशर रैंडम शतरंज के फ़ाइनल में  अमेरिका के वेसली सो के खिलाफ एकतरफा हार नें उन्हे जोरदार झटका दिया था पर भारत आते ही जैसे कार्लसन में उनका खोया आत्मविश्वास वापस लौट आया और पहले ही दिन उन्होने जो रफ्तार पकड़ी वह अंत तक कायम रही । अमेरिका के नाकामुरा के लिए भी यह प्रतियोगिता अच्छी साबित हुई और उन्होने बेहतरीन प्रदर्शन के साथ दूसरा स्थान हासिल किया । भारत के लिए विश्वनाथन आनंद का लंदन के लिए चयनित ना हो पाना एक झटका रहा । हरिकृष्णा काफी बेहतर कर सकते थे पर उन्होने थोड़ा निराश किया तो विदित भले ही नौवे स्थान पर रहे पर उन्होने कुछ खास मुक़ाबले जीतकर भविष्य की थोड़ी उम्मीद तो जगाई ही है । अमृता मोकल के तस्वीरों के साथ पढे यह लेख । 

टाटा स्टील इंडिया DAY 4 - फिर आनंद से ही उम्मीद

25/11/2019 -

कोलकाता में भारतीय शतरंज इतिहास के सबसे बड़े रैपिड और ब्लिट्ज़ टूर्नामेंट टाटा स्टील इंडिया में रैपिड में मेगनस कार्लसन नें तो अपना जलवा दिखाया ही आज शुरू हुए ब्लिट्ज़ मुकाबलों में भी कार्लसन बढ़त बनाने में कामयाब रहे । हालांकि ब्लिट्ज़ में उन्हे डिंग लीरेन से हार का सामना करना पड़ा और यह उनकी भारत में अब तक  की पहली हार रही । नाकामुरा नें रैपिड के तरह ब्लिट्ज़ में भी अपना दूसरा स्थान बरकरार रखा है । भारत की उम्मीद अभी विश्वनाथन आनंद पर है क्यूंकी वह ही अकेले ऐसे खिलाड़ी नजर आते है जो कल बेहतर प्रदर्शन कर शीर्ष तीन में जगह बना सकते है । पढे क्या हुआ पहले दिन के ब्लिट्ज़ मुक़ाबले में ।  

मयंक और अनुपम बने राष्ट्रीय अण्डर-11 चैम्पियन

25/11/2019 -

अखिल भारतीय शतरंज संघ से संबंद्ध दिल्ली शतरंज संघ के तत्वावधान में नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इनडोर स्टेडियम के केडी जाधव हाल में 15 नवंबर से शुरू हुई राष्ट्रीय अण्डर-11 ओपेन चेस चैम्पियनशिप का शानदार समापन 23 नवंबर हुआ। प्रतियोगिता के ओपेन वर्ग का खिताब 8वीं सीटेड आसाम के मयंक चक्रबोर्ती (1849) 9.5 अंक बनाकर और गर्ल्स का खिताब केरल की अनुपम एम श्री कुमार (1599) ने अपने अभूतपूर्व प्रदर्शन से 10.5 अंक बनाकर अपने नाम कर लिया। आठ दिनों तक चली इस प्रतियोगिता के दोनों वर्गों में देश के 27 अलग-अलग राज्यों के 439 खिलाड़ियों ने अपने अनुशासित खेल से चार चांद लगा दिया। प्रतियोगिता में कुल 298 रेटेड खिलाड़ी शामिल रहे। पढ़े नितेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट फोटो जितेन्द्र चौधरी

टाटा स्टील शतरंज :D4 क्या आनंद करेंगे वापसी ?LIVE

25/11/2019 -

टाटा स्टील इंडिया शतरंज रैपिड के बाद ब्लिट्ज़ के मुक़ाबले शुरू हो चुके है क्या आनंद कल के बाद आज फिर वापसी करेंगे ? खैर बात करे उदघाटन समारोह की तो भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और वर्तमान बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरभ गांगुली नें विश्वनाथन आनंद के साथ मिलकर पहली चाल d4 चलकर शुभारंभ किया तो विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन नें जबाब दिया d5 ! कोलकाता के होटल ताज में हुए इस कार्यक्रम में खिलाड़ियों के मैच की सीडिंग और रंग का भी चयन किया गया । कोलकाता से सागर शाह ,अमृता मोकल और शाहिद अहमद कर रहे है चेसबेस इंडिया के लिए विश्वस्तरीय कवरेज ! देखे यहाँ लाइव मुक़ाबले !

टाटा स्टील इंडिया DAY 2 - कार्लसन को रोकना मुश्किल

23/11/2019 -

कोलकाता में चल रहे टाटा स्टील इंडिया रैपिड का दूसरा दिन भी पूरी तरह से मौजूदा क्लासिकल विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन के नाम रहा उन्होने आज भी दो जीत और एक ड्रॉ के साथ 5 अंक बनाते हुए 6 राउंड के बाद कुल 10 अंको के साथ बेहद मजबूत बढ़त हासिल कर ली है और कल उन्हे भारतीय खिलाड़ियों विश्वनाथन आनंद और पेंटाला हरिकृष्णा से टकराना होगा साथ ही सेंट लुईस में उन्हे हराने वाले चीन के डिंग लीरेन से भी हिसाब बराबर करने का उन्हे मौका मिलेगा । बात करे भारत के विश्वनाथन आनंद जी की तो उन्होने आज कुल 3 अंक बनाए पहले तो अरोनियन पर जीत के साथ उन्होने अच्छी शुरुआत की और उसके बाद नाकामुरा से ड्रॉ खेलकर वह दूसरे स्थान पर बने हुए थे पर अंतिम राउंड में अनीश गिरि से हारना उन्हे चौंथे स्थान पर पहुंचा गया । हरिकृष्णा के लिए नेपोनियची को हराकर जहां दिन शानदार शुरू हुआ पर अरोनियन और नाकामुरा से हार नें उन्हे वापस नीचे भेज दिया । विदित नें आज अनीश गिरि और मेगनस कार्लसन से दो दो ड्रॉ खेले जबकि वेसली सो से उन्हे हार का सामना करना पड़ा। साथ ही जाने कार्लसन और आनंद आज ईडन गार्डन क्रिकेट स्टेडियम में क्या कर रहे थे  पढे यह लेख !

टाटा स्टील इंडिया DAY-1 - कार्लसन ने दिखाया जलवा !

22/11/2019 -

टाटा स्टील इंडिया के पहले दिन ही सभी को कई रोमांचक मुक़ाबले देखने को मिले ,आज खेले गए कुल 15 मुकाबलों में 6 के परिणाम निकले। आज अपने विश्व चैम्पियन बनने का छठा वर्ष पूरा करने वाले मेगनस कार्लसन नें बेहतरीन खेल दिखाया और पहले दिन के बाद 5 अंक बनाकर एकल बढ़त बना ली ,मानो भारत आते ही उनका खोया हुआ फॉर्म वापस लौट आया हो । आज उन्होने पहले राउंड में अमेरिका के वेसली सो से मुक़ाबला ड्रॉ खेला, लेकिन दूसरे और तीसरे मैच में एकतरफा अंदाज में पहले इयान नेपोंनियची और फिर लेवान अरोनियन को मात देते हुए सबसे आगे निकल गए है । आनंद के लिए आज का दिन दूसरे राउंड में वेसली सो के उपर बेहतरीन जीत लेकर आया तो नेपोंनियची के खिलाफ उन्हे बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा । तीन राउंड के बाद आनंद तीन अंक बनाकर आज तीन ड्रॉ खेलने वाले पेंटाला हरिकृष्णा और विदित गुजराती के साथ सयुंक्त तीसरे स्थान पर चल रहे है । टाटा स्टील इंडिया रैपिड पहले दिन पर पढे यह लेख !

टाटा स्टील इंडिया 2019 - कौन बनेगा इस बार का राजा

21/11/2019 -

भारत का सबसे बड़ा इंटरनेशनल टूर्नामेंट एक साल बाद भारत लौट आया है , जी हाँ टाटा स्टील इंडिया शतरंज चैंपियनशिप  एक बार फिर रैपिड और ब्लिट्ज़ फॉर्मेट मे खेली जाएगी,और सबसे बड़ी बात यह की मौजूदा विश्व शतरंज चैम्पियन मेगनस कार्लसन भी इस प्रतियोगिता में खेलने के लिए छह साल बाद भारत पहुँच चुके है । भारत का प्रतिनिधित्व एक बार फिर 5 बार के विश्व चैम्पियन विश्वनाथन आनंद ,पेंटाला हरिकृष्णा और विदित गुजराती कर रहे है । खैर प्रतियोगिता तो कल से शुरू होगी पर वेसली सो ,हिकारु नाकामुरा ,अनीश गिरि और पेंटाला हरिकृष्णा नें दो दिन पहले ही यहाँ पहुँच कर कोलकाता की मेहमान नवाजी का खूब आनंद उठाया है ।  22 नवंबर से 24 नवंबर तक पहले रैपिड के मुक़ाबले खेले जाएँगे तो 25 और 26 नवंबर को ब्लिट्ज़ के मुक़ाबले होंगे । तो कौन जीतेगा इस बार का खिताब इसके साथ साथ इस बात पर भी नजर रहेगी की क्या विश्वनाथन आनंद जीसीटी के पॉइंट्स अर्जित कर लंदन के फ़ाइनल में जगह बना पाएंगे ?

राष्ट्रीय U-11 : दक्षिण अरुण और अनुपम खिताब की ओर

21/11/2019 -

अखिल भारतीय शतरंज संघ से संबंद्ध दिल्ली शतरंज संघ के तत्वावधान में नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इंडोर  स्टेडियम के केडी जाधव हाल में चल रही राष्ट्रीय अण्डर-11  चैम्पियनशिप अब अपने समापन के करीब पहुँच गयी है 9 चक्रों की समाप्ति के बाद नन्हे खिलाड़ियों ने प्रतियोगिता को पूरे रोमांच पर पहुंचा दिया है। ओपन वर्ग में 28वीं सीटेड तमिलनाडु के दक्षिण अरूण(1644) बेहरीन खेल से अपने प्रतिद्धद्धियों को अपनी चालों की चक्रव्यूह में फंसाकर अंक तालिका में पहले स्थान पर काबिज हो गए है और अपराजित रहते हुए 8.5 अंक अर्जित कर लिए है। वहीं बालिका वर्ग में टॉप सीटेड अनुपम श्रीकुमार का विजय रथ शतरंज की बिसात पर सभी प्रतिद्धद्धियों को पछाड़ कर सरपट भाग रहा है। 9 चक्रों की समाप्ति पर अनुपम ने नाबाद रहती हुई 8.5 अंक बनाकर बढ़त पर बनी हुई है । दोनों खिलाड़ियों नें साफ एक अंक की बढ़त हासिल कर ली है और ऐसे मे वह दोनों खिताब की दौड़ में सबसे आगे निकल गए है । पढ़े नितेश श्रीवास्तव की रिपोर्ट

मृदुल देहांकर बनी महिला ग्रांडमास्टर टूर्नामेंट विजेता

20/11/2019 -

भारतीय महिला शतरंज को एक नई ऊंचाई देने के अखिल भारतीय शतरंज संघ के इस वर्ष किए गए प्रयास सचमुच सराहनीय रहे है । भारतीय खेल प्राधिकरण के सहयोग से इस वर्ष फरवरी में चेन्नई से शुरू हुए महिला ग्रांड मास्टर टूर्नामेंट नें अहमदाबाद में अपना अंतिम पड़ाव पूरा किया और इस दौरान दिव्या देशमुख और मृदुल देहांकर जैसे खिलाड़ियों नें अपने प्रदर्शन से इस प्रयास की सफलता सुनिश्चित की । अच्छी पुरूष्कार राशि के साथ विदेश की बड़ी महिला खिलाड़ियों को आमंत्रित करना और इस तरह के मुक़ाबले आयोजित करना एक बेहद ही अच्छा कदम कहा जा सकता है और उम्मीद है यह प्रयास यूं ही जारी रहेगा । खैर बात करे अहमदाबाद के मुक़ाबले की तो यहाँ नागपुर की मृदुल देहांकर नें खिताब जीतकर भारत का गौरव बढ़ाया और 1,60,000 रुपए के पुरूष्कार पर कब्जा जमाया । कुल 11 राउंड में से 9 अंक बनाकर वह विजेता बनी । गुजरात शतरंज संघ नें एक बार फिर अपनी बेहतरीन आयोजन क्षमता का नमूना इस प्रतियोगिता से दिया । पढे  यह लेख ।